Featured Posts (7)


उदासी छोड़ भी दे जो मुझे ...बेचैनियाँ तो हैं 
किसी की जुज़ तेरे भी .,,मुझ में यूँ  ..दिलचस्पियाँ तो हैं 

सिवा इक हिज्रे यारां कुछ मुझे मुश्किल नहीं लगता 
सुना है ज़िन्दगी में और भी ..दुश्वारियाँ तो हैं 

मेरे अशआर सारे कह न पाये कुछ कभी तुझ से 
मुख

Read more…
Comments: 11

तू कभी मिल जाये तो इस बात का चर्चा करूँ
हो गिला तुझसे ही तो किससे ख़ुदा शिकवा करूँ

हर सुतूं मिस्मार है अब इस हिसारे जिस्म का
रूह जाने को ही राज़ी है नहीं तो क्या करूँ

धूप के मासूम टुकड़ों की है मुझसे आरज़ू
साथ उनके जब रहूँ तो उनपे मैं छाया करूँ

झुर्रियाँ

Read more…

ज़िन्दगी तूने ही दी थी, ले के मेरा क्या लिया
ख़ुदकुशी का मुझसे नाहक़ फ़ैसला करवा लिया

बौखलाए इस क़दर उसकी तमाज़त से कि ख़ुद
अपने साये में ही हमने धूप को बैठा लिया

रेत को पानी बताने की ख़ता सहरा ने की
तो सराबों ने हमारी प्यास से बदला लिया

रुख़्सती पर जो लिखा थ

Read more…
Comments: 4

सिर्फ़ हँस कर नहीं दिखाओ मुझे
जी रहे हो, यक़ीं दिलाओ मुझे

झूठ की उम्र कम ही होती है
हो भले तल्ख़ सच बताओ मुझे

तुम तो इतने करीब हो उसके
ज़िन्दगी से कभी मिलाओ मुझे

मेरे ख़त ही हैं ज़िन्दगी मेरी
ख़ुद ही जल जाएँगे जलाओ मुझे

दाम ख़ुद ही अदा न कर पाओ
क़ीमती इतना मत

Read more…
Comments: 0

अँधेरे जो हम दिल में पाले रहेंगे
बहुत दूर हमसे उजाले रहेंगे
----------------------------------------
कोई भी न देगा हमें हक़ हमारा
जुबाँ पर हमारी जो ताले रहेंगे
----------------------------------------
हमें ढालिये मत ज़माने के रँग में
हमारे चलन तो निर

Read more…
Comments: 1

 

ग़मगीन थे जो पाँव में ज़ंज़ीर देखकर
ख़ुश हैं हमारे हाथ मे शमशी र देखकर

बदज़ह्नियत क़ुबूल नहीं थी हमें मगर
बदले हैं हम तो वक़्त की तासीर देखकर

देखे हसीन ख़्वाब कई मैंने इन दिनों
हैरान हूँ अब उनकी ही ताबीर देखकर

खमोश झील में कोई पत्थर न फेंक दे
शादां बचे हुब

Read more…
Comments: 0


आँखों में है लाली क्या
बात गई है टाली क्या

तेरे दर से बढ़ कर हैं
ऊटी और मनाली क्या

वो गाली देता है गर
मैं भी दे दूँ गाली क्या

तर्क़ किया था तुमने कल
फिर शमशीर उठाली क्या

सीधा हूँ क्या जानूँ मैं
फर्जी है क्या जाली क्या

तेरी झूठी बातों पर
मैं भी बजाऊँ

Read more…
Comments: 4

प्रयागराज - लखनऊ - कानपुर - नोएडा - नई दिल्ली - चंदौसी - मेरठ - साँईखेड़ा - इंदौर - भोपाल - जयपुर - आगरा

Designed and managed by Shesh Dhar Tiwari for Sukhanvar International